Education

आइए जानते है saving account क्या होता है

saving account क्या होता है

बैंक खाता होने से इकोनॉमी को मदद करते हुए बचत करना, लेन-देन करना और अपनी गतिविधियों पर नज़र रखना आसान हो जाता है क्योंकि बैंक पैसे को आगे बढ़ाते रहते हैं। ब्याज अर्जित करने के अलावा, बैंक खाता होने से हमें उन सुविधाओं तक पहुंच मिलती है जो हमें अपने पैसे का बेहतर प्रबंधन करने की अनुमति देती हैं।

आप गृहिणी हों या कॉलेज के छात्र, व्यवसाय के स्वामी हों या व्यवसायिक घराने, रिटायर्ड पेशेवर या विदेश में रहने वाले भारतीय, बैंक खाता न होना अकल्पनीय है। अर्थात सभी के पास बचत खाता होता ही है। भारत में कुछ प्रकार के बैंक खातों की सूची यहां दी गई है। जैसे· Current Account,Saving Account,Salary Account,Fixed Deposit Account,Recurring deposit A,NRI Account आदि।

बचत खाते बैंकों द्वारा रखे गए एक प्रकार के जमा खाते हैं जो ब्याज का भुगतान करते हैं। वे एक व्यक्ति को अपना कुछ पैसा तत्काल उपयोग के लिए बैंक में रखने देते हैं। वे ब्याज के माध्यम से भी पैसा कमाते हैं। बैंक में बचत खाता होने से व्यक्ति को आपात स्थिति के लिए धन उपलब्ध कराने की अनुमति मिलती है।

Saving Account क्या होता है?

एक बचत खाता एक प्रकार का बैंक खाता है जो आपको अपना पैसा जमा करने और कंपाउंड इंटरेस्ट अर्जित करने के लिए एक सुरक्षित स्थान देता है।

एक बचत खाता एक बेसिक प्रकार का बैंक खाता है जो आपको पैसे जमा करने की अनुमति देता है। आप इससे अपना पैसा निकाल सकते हैं और अधिकांश बैंक आपको इन खातों की शेष राशि पर कंपाउंड इंटरेस्ट का भुगतान करते हैं।

कई बैंक क्रेडिट यूनियन और अन्य फाइनेंस संस्थान अन्य खातों के अलावा बचत खाते भी प्रदान करते हैं। आपको कुछ सेविंग खाते भी मिल सकते हैं जो दूसरों की तुलना में ज्यादा इंटरेस्ट रेट की पेशकश करते हैं।

बचत खाते कैसे काम करते हैं?

जब आप किसी बचत खाते में पैसा जमा करते हैं, तो इसका बीमा संघीय जमा बीमा निगम (FDIC) द्वारा किया जाता है। यदि उस संस्था को कुछ होता है जिसमें आपका पैसा है तो आपको वह वापस मिल जाएगा।

ज्यादातर बचत खाते पैसे बचाने के लिए प्रोत्साहन के रूप में कंपाउंड इंटरेस्ट की पेशकश करते हैं। जब आप पैसा जमा करते हैं, तो उस पर ब्याज मिलता है, जिसे वापस खाते में जमा कर दिया जाता है। नया बैलेंस ब्याज कमाता है।

आपको बचत खाते की आवश्यकता क्यों है?

बचत खाता उनकी सुरक्षा, विश्वसनीयता और तरलता के कारण, रोजाना खर्च करने वाली नकदी से अलग और बाद की तारीख के लिए पैसा रखने के लिए एक अच्छी जगह है। ये खाते आपके इमरजेंसी फ़ंड या छोटी अवधि के लक्ष्यों के लिए बचत करने के लिए एक बढ़िया जगह हैं, जैसे छुट्टी या घर की मरम्मत।

जरूरत पड़ने पर अपने नकदी तक तुरंत पहुंच से परे, बचत खाते अक्सर खातों की जांच करने की तुलना में अधिक ब्याज दरों की पेशकश करते हैं।

आपको अपने बचत खातों में कितना रखना चाहिए?

बचत खाते में आपको कितनी राशि रखनी चाहिए यह काफी हद तक आपके लक्ष्य पर निर्भर करता है। यदि आप इसे एक इमरजेंसी निधि के रूप में उपयोग कर रहे हैं तो अधिकांश फाइनेंस सलाहकारों का सुझाव है कि आप अपने खाते में तीन से छह महीने के जीवन-यापन का खर्च रखें।

उदाहरण के लिए यदि आप अपने बंधक, कार भुगतान और भोजन जैसी लागतों पर प्रति माह औसतन 225,000 रुपए खर्च करते हैं, तो आप खाते में 675,000 रुपए से 1,350,000 रुपए तक कहीं भी बचा सकते हैं।

यदि आप किसी विशिष्ट लक्ष्य के लिए बचत कर रहे हैं – जैसे छुट्टी, घर खरीदना या कार खरीदना – तो आप उस खर्च का भुगतान करने के लिए खाते में पर्याप्त राशि रखेंगे।

Saving account(बचत खाता) कैसे खोलें?

बचत खाता खोलना आसान है। बचत खाता खोलने के लिए नीचे दिए गए स्टेप्स को फॉलो कर ओपन करवा सकते है।

1. अपने विकल्पों की तुलना करें(compare your options)

कई फाइनेंस संस्थान हैं जो बचत खाते की पेशकश करते हैं। अपना खाता खोलने से पहले, सुनिश्चित करें कि आपने अपनी आवश्यकताओं के लिए सही बैंक चुना है।
अपनी पसंद बनाते समय इनमें से कुछ प्रमुख विशेषताओं को देखें:

  • प्रतिस्पर्धी ब्याज दर
  • कम या कोई न्यूनतम शेषराशि आवश्यकता
  • कम या कोई मासिक शुल्क
  • यदि कोई मासिक शुल्क है, तो क्या इससे बचना आसान है?
  • यदि आपके पास पहले से एक चेकिंग खाता है, तो उसी बैंक में बचत खाता खोलना अक्सर आसान होता है।

2. आवश्यक दस्तावेज इकट्ठा करें(Gather the Required Documents)

जब आप कोई बैंक खाता खोलते हैं तो आपको अपने बारे में कुछ जानकारी और साथ ही कुछ डॉक्यूमेंट देने होंगे। जब आप पर्सनली या ऑनलाइन खाता खोलने जाते हैं तो सुनिश्चित करें कि आपके पास निम्नलिखित जानकारी तैयार है:

  • पहचान, जैसे ड्राइविंग लाइसेंस या पासपोर्ट
  • सामाजिक सुरक्षा संख्या
  • जन्म की तारीख
  • पता (और पते का प्रमाण, यदि आपकी आईडी में पिछले पते की सूची है)
  • कॉन्टैक्ट जानकारी
  • यदि लागू हो तो आपके नए खाते में राशि जमा करने के लिए बैंक खाते की जानकारी

3. एक संयुक्त या व्यक्तिगत खाता चुनें(Choose a Joint or Individual Account)

यदि आप अपने लिए खाता खोल रहे हैं तो एक पर्सनल खाता खोलें। यदि आप किसी अन्य व्यक्ति, जैसे कि आपके पति या पत्नी या आपके बच्चे के साथ बचत खाता खोल रहे हैं, तो आपको एक संयुक्त खाता खोलना चाहिए।

4. अपने खाते में फंड डालें(fund your account)

Saving Account खोलने में आपको प्रारंभिक जमा करने की आवश्यकता होगी। यदि आप व्यक्तिगत रूप से खाता खोल रहे हैं तो आप आमतौर पर इसे नकद या चेक से कर सकते हैं। कुछ बैंकों में न्यूनतम प्रारंभिक जमा की आवश्यकता होती है। आमतौर पर न्यूनतम जमा राशि 1,875 रुपए से 7,500 रुपए के बीच होती है।

न्यूनतम प्रारंभिक जमा राशि के ऊपर, कुछ उच्च-ब्याज बचत खाते मासिक रखरखाव शुल्क लेते हैं जो आपकी बचत को खा सकता है। इन शुल्कों से बचने के लिए, कई बैंकों के लिए आवश्यक है कि खाताधारक के पास कुछ सौ डॉलर का न्यूनतम बैलेंस हो।

5. अपना आवेदन जमा करें(submit your application)

सभी आवश्यक जानकारी के साथ अपना आवेदन जमा करें और बैंक द्वारा आपका खाता खोलने की प्रतीक्षा करें। यह आमतौर पर जल्दी होता है, और आप एक या दो दिन के भीतर अतिरिक्त जमा और निकासी शुरू कर सकते हैं।

6. ऑनलाइन बैंकिंग सेट करें(set up online banking)

लगभग हर बैंक और क्रेडिट यूनियन इन दिनों ऑनलाइन बैंकिंग के किसी न किसी रूप की पेशकश करते हैं। यह आपकी शेष राशि की जांच करना, money transfer और अपने खाते का प्रबंधन करना बहुत आसान बनाता है। एक ऑनलाइन बैंकिंग खाते के लिए साइन अप करें और चलते-फिरते एक्सेस के लिए अपने फोन पर बैंक का ऐप डाउनलोड करें।

Read More:-

-बैंक खाता कितने प्रकार के होते है। पूरी जानकारी हिंदी में
चालू खाता(Current Account) की पूरी जानकारी।

Related posts

दुनिया में सबसे कठिन पाठ्यक्रम(Toughest Course in the World)

Neha Kumari

10वीं (हाई स्कूल) पास करने के बाद आप क्या क्या कर सकते है?

Pradeep Kumar

एनआरआई खाता क्या है और यह कितने प्रकार का होता है|

Ravi Chaurasiya

Leave a Comment

AllEscort