बैंक खाता कितने प्रकार के होते है। पूरी जानकारी हिंदी में

बैंक आजकल सब के लिए जरुरी है क्युकी अगर आप किसी कंपनी या सरकारी नौकरी कर रहे है तो आपके पास एक बैंक खाता होना आवश्यक है, बच्चों के scholarship के लिए, सरकारी योजना से मिल रहे धनराशि के लिए, एक जगह से दूसरी जगह पैसे भेजने के लिए ऐसे बहुत से काम है जिसमे आपको बैंक खाता की जरुरत पड़ती है।

आपको बता दे की बैंक खाता मुख्य रूप से 6 प्रकार के होते है और ये आपके जरुरत के अनुसार बनाया गया है। सामन्य उपयोग के लिए बचत खाता, बिज़नेस करने वालो के लिए चालू खाता, नौकरी करने वालो के लिए वेतन खाता, NRI Account जो इंडियन नहीं है उनके लिए, अधिक ब्याज के लिए लोग RD Accounts और FD Accounts खोलते है। तो आइये अब विस्तार में जानते है की बैंक खाता कितने प्रकार के होते है।

बैंक खाता मुख्य रूप से 6 प्रकार के होते है –

  1. बचत खाता(Savings Account)
  2. चालू खाता(Current Account)
  3. वेतन खाता(Salary Account)
  4. एनआरआई खाता(NRI Account)
  5. आवर्ती जमा खाता(Recurring Deposit (RD) Accounts)
  6. सावधि जमा खाता(Fixed Deposit (FD) Accounts)

अब हम बैंक खाता कितने प्रकार के होते है और उनके बारे में पूरी जानकारी देंगे तो कृपया पूरी जानकारी के लिए इससे पूरा पढ़े –

बचत खाता(Savings Account)

जैसा की आपको नाम से पता चल रहा है की ये एक बचत खाता(Savings Account) है जिसे अपने बचत को महफूज रखने के लिए खोला जाता है। Savings Account को एक निर्धारित धनराशि के साथ खोला जाता है। Savings Account में आप जब भी चाहे पैसे जमा कर सकते है और निकल सकते है लेकिन पैसे आप 6 महीने में 30 से अधिक बार नहीं निकल सकते है। बचत खाता में आपको बैंक cheque book, debit card, mobile Banking, internet Banking की सुविधा देता है। Savings Account को personal लेन देन के लिए ओपन किया जाता इस खाता में आप दिन 5 बार निकल और जमा कर सकते है। इस खाता को आप single और joint खाता के रूप में खोल सकते है।

चालू खाता(Current Account)

इस खाता को अधिकतर company, industry और business के लिए ही खुलता है। चालू खाता में लेन-देन की कोई limit नहीं होती है और न ही इस account पर ब्याज मिलता है। चालू खाता को चलाने के लिए एक minimum balance रखना पड़ता है नहीं तो आपको penalty लग जाएगी और हो सकता है खाता बंद कर दिया जाये। इस खाता को maintain करने के लिए खाता धारक से service charge लिया जाता है।

वेतन खाता(Salary Account)

ये खाता बैंक के द्वारा बड़े निगमों और व्यवसायों के अनुरोध पर ओपन किया जाता है। वेतन खाता के माध्यम से कंपनी कर्मचारियों को मासिक वेतन बहुत ही आसानी से देते है, इसमें भी वो सारे लाभ नहीं मिलते है जो Savings Account में मिलता है लेकिन अगर 3 महीने तक कोई रकम ना आये तो Account बंद कर दिया जाता है. ये खाता 0 balance ओपन होता है।

एनआरआई खाता(NRI Account)

ये खाते non-resident Indians द्वारा खोले जाते हैं जो भारत में एक वित्तीय बैंक खाता बनाए रखना चाहते हैं। तीन प्रकार के एनआरआई खाते खोले जा सकते हैं: Non-Residential Ordinary Account (NRO), Non-Residential External Account (NRE), Foreign Currency Non-Residential Account (FCNR).

आवर्ती जमा खाता(Recurring Deposit (RD) Accounts)

इस account को वो लोग ओपन करते है जिनके पास कोई fixed रकम नहीं होती है तो RD account खोलते है। अपनी छोटे छोटे amount को बचत खाता में जमा करते है। RD account की सबसे अच्छी बात ये है की इसमें ब्याज saving account अधिक मिलता है और FD account से कम। RD account को आप single और joint दोनों तरीको से चला सकते है इसकी समय अवधि कम से कम 6 महीने और अधिक से अधिक 10 साल होती है।

सावधि जमा खाता(Fixed Deposit (FD) Accounts)

भारत में सबसे अधिक FD account खोला जाता है क्युकी ये खाता लम्बे समय और अधिक ब्याज के लिए खोला जाता है। FD account को retired और middle family अधिक ब्याज के लिए ओपन करती है, इससे अपने बच्चो की पढ़ाई, शादी और भी बहुत से काम को पूरा करने के लिए। FD account में ब्याज की प्रतिशत दर सभी बैंक में अलग अलग होती है। FD account कम से कम 7 दिन से लेकर 10 साल तक लिए खोल सकते है। वैसे तो normal FD account में पैसे 8 – 10 साल में पैसा दुगना हो जाता है।

धन्यवाद।….

दोस्तों ये थी आपके लिए एक जनरल जानकारी की बैंक खाता कितने प्रकार के होते है। अगर आपका कोई सुझाव हो तो हमें comment box में लिख कर जरूर बताये। और मैं विस्तार में जानकारी जल्दी ही पोस्ट करूँगा।

Read More: –

-आइये जानते है BBA कोर्स क्या है।
-CityMall Leader App: आइए जानते है की Citymall App क्या है.
-महतपूर्ण प्रतियोगी परीक्षाओं के Full Forms – बैंक, एसएससी, रेलवे
-आईआरसी क्या है ? – IRC Full Form in Hindi
-प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना और इसके क्या लाभ है.

Leave a Comment

istanbul diyetisyen -

seo ajansı

- mersin escort