12th medical के बाद आप किन किन कोर्सेज की तरफ जा सकते है?

12th medical के बाद कौन कौन सा कोर्स कर है: कैरियर के फैसले सबसे ज्यादा जरूरी होते हैं और इसके लिए फैसला लेना इतना आसान नहीं होता है। मेडिकल(Biology) से इंटरमीडिएट करने के बाद कैरियर के बहुत सारे अवसर हैं। लेकिन सबसे महत्वपूर्ण यह है की सही कोर्सेज का चुनाव करना। ऐसे बहुत से जरूरी स्टेप्स हैं जो 12th के बाद किसी के करियर को डिसाइड करते हैं जिसमें विषय की रुचि,विषयों का ज्ञान और बजट आदि शामिल हैं। आप मेडिकल कोर्सेज के लिए NEET के तैयारी के लिए जा सकते है।

मेडिकल एक ऐसी स्ट्रीम है जो स्टूडेंट्स के लिए एक विशाल कैरियर मार्ग खोलती है। मेडिकल लाइन एक ऐसे लाइन है जिसमे आप को कुछ संघर्ष करना होगा। यदि आपने 12th मेडिकल स्ट्रीम से किया है तो यह न सोचे की इसके लिए कोई कैरियर नही है। मेडिकल में कैरियर बनाना बहुत आसान है। यदि आप पूरी लगन के साथ कोई भी कोर्सेज को टारगेट करते है तो आपको सक्सेज जरूर मिलेगी। यहां तक ​​​​कि अगर आपको मेडिसिन या नर्सिंग जैसी अन्य स्ट्रीम्स से कोर्स करने का मन करता है तो आप जल्दी से इसके लिए जा सकते हैं।

जितने अधिक ऑप्शन होंगे उतना ही अधिक भ्रम होगा और इसलिए किसी भी कोर्सेज को चुनने से पहले आपको स्पष्ट रूप से सारी जानकारी ले लेनी चाहिए।

असीमित करियर विकल्पों में से नीचे कुछ बेहतरीन अवसर दिए गए हैं जिन्हें मेडिकल छात्र चुन सकते हैं और एक सफल करियर बना सकते हैं और हां यदि आप यह सोच रहे है की बिना NEET एग्जाम के क्वालीफाई मेडिकल फील्ड में नही जा सकते तो आप गलत हो सकते है।
नीचे दिए जितने भी कोर्सेज है उसे आप बिना NEET के कर सकते है।

12th medical के बाद आप नीचे दिए गए कोर्स चुन सकते है

बीएससी नर्सिंग(B.Sc Nursing)

यदि आप अपना कैरियर मेडिकल फिल्ड में बनाने के लिए तैयार है तो आप इस कोर्स की ओर जा सकते है। बीएससी नर्सिंग उन छात्रों के लिए 4 साल का स्नातक कोर्स है जो मरीजों की देखभाल करके समाज की सेवा करना चाहते हैं। यह कोर्स ICU जैसे कई विभागों में डॉक्टरों की सहायता करने के लिए छात्रों को पूर्ण ज्ञान और कौशल प्रदान करता है। सीसीयू, ईआर, ओटी, आदि।
आप बिना neet की परीक्षा के इस फील्ड में ज्ञान हासिल कर सकते है।

बीएससी जैव प्रौद्योगिकी(BSc Biotechnology)

इस कोर्स को कंप्लीट करके आप मेडिकल में अपना कैरियर स्थापित कर सकते है। बायोटेक्नोलॉजी में बैचलर ऑफ साइंस एक 3 साल का अंडरग्रेजुएट कोर्स है जो एटॉमिक और एप्लाइड बायो पर केंद्रित है। पाठ्यक्रम अलग अलग शोध परियोजनाओं वाले छात्रों को पर्याप्त ज्ञान और कौशल प्रदान करता है। नीट के बिना मेडिकल कोर्स करने वाले छात्र बायोटेक्नोलॉजी में बीएससी करके अलग अलग क्षेत्रों में अलग अलग अवसरों का पता लगा सकते हैं।

बीएससी मनोविज्ञान(BSc Psychology)

यदि आपकी रुचि साइकोलॉजी के लिए है तो आप इस कोर्स की तरफ बेजीझक जा सकते है। बैचलर ऑफ आर्ट्स या बीएससी साइकोलॉजी के बिना सबसे अधिक चुने गए मेडिकल पाठ्यक्रमों में से एक सभी क्षेत्रों में कैरियर के अवसरों की एक श्रृंखला के द्वार खोलता है। डेवलपमेंटल और सोशल साइकोलॉजी से लेकर अनुसंधान पद्धति तक, बीएससी या बीए मनोविज्ञान विषय क्षेत्र से संबंधित विषयों की एक श्रृंखला को कवर करते हैं।

बायोमेडिकल इंजीनियरिंग में स्नातक(Bachelors in Biomedical Engineering)

यदि आप सोच रहे है की इंजीनरिंग भी होता है मेडिकल कोर्सेज में तो आप सही सोच रहे है। आप बायोमेडिकल से इंजीनरिंग भी कर सकते है। बायोमेडिकल इंजीनियरिंग जिसमें मेडिसिन और इंजीनियरिंग के एलिमेंट्स शामिल हैं। यह कोर्स जीव विज्ञान और चिकित्सा में इंजीनियरिंग की तकनीकों को शामिल करके मानव स्वास्थ्य में सुधार के नए तरीके बनाने पर काम करता है। इस कोर्स को पूरा करने पर जो 4 साल की अवधि तक चलता है। आप इस कोर्स को पूर्ण कर उद्योगों में पर्याप्त बायोमेडिकल इंजीनियरिंग नौकरियां पा सकते हैं। इस कोर्स का आजकल मार्केट में बहुत डिमांड है।

बी फरमा(B Pharma)

जो लोग फार्मेसी में अपना करियर बनाना चाहते हैं उनके लिए बी फार्मा एक बेहतरीन विकल्प है। इस कोर्स की समय सीमा 4 साल तक है, बैचलर ऑफ फार्मेसी ड्रग डेवलपमेंट, फार्माकोलॉजी, क्लिनिकल प्रैक्टिस आदि जैसे क्षेत्रों में व्यापक ज्ञान प्रदान करता है। यदि आप इस क्षेत्र में NEET के बिना मेडिकल कोर्स की तलाश कर रहे हैं तो फार्मेसी में डिप्लोमा भी तलाशने लायक है।

बीएनवाईएस(BYNS)

आजकल दुनिया भर में योग का इतना क्रेज हो गया है की सभी लोग इस क्रेज के दीवाने बन गए है। योग विज्ञान और प्राकृतिक चिकित्सा पाठ्यक्रम भी अब दुनिया भर के कुछ विश्वविद्यालयों द्वारा पेश किए जा रहे हैं। इस तरह के कार्यक्रम शरीर को शुद्ध करने और विषाक्त पदार्थों को दूर करने के लिए एक्यूपंक्चर, पोषण, हर्बल दवाओं आदि पर ध्यान केंद्रित करते हैं। व्यक्तिगत स्वास्थ्य के बारे में बढ़ती जागरूकता के साथ, BYNS जैसे NEET के बिना मेडिकल कोर्स कई लोगों द्वारा अपनाए जा रहे हैं।

बीएससी जीव विज्ञान(BSc Biology)

यदि आप कॉस्टली कोर्स की तरफ जाने की सोच रहे है तो आप BSc Biology की तरफ जा सकते है। सबसे अधिक मांग वाला बैचलर ऑफ साइंस कोर्स है जो 3-4 साल की अवधि तक चलता है। यह कोर्स बायोडायवर्सिटी और मेडिकल डायग्नोसिस से लेकर सिस्टम फिजियोलॉजी और सार्वजनिक स्वास्थ्य तक, पाठ्यक्रम सिद्धांत कक्षाओं और व्यावहारिक प्रयोगशालाओं दोनों के माध्यम से क्षेत्र का व्यापक ज्ञान प्रदान करता है और इस कोर्स की सहायता से आप अपने कैरियर को एक नया और अच्छा डायरेक्शन दे सकते है।

नर्सिंग(Nursing)

यदि आप दूसरो की देख रेख करना चाहते है या आप कुछ नया मेडिकल लाइन में सीखना चाहते है तो आप नर्सिंग कोर्स की ओर जा सकते है। MBBS और डेंटल साइंस के बाद नर्सिंग एक लोकप्रिय चिकित्सा विशेषज्ञता है और भारत के साथ-साथ विदेशों में कई कॉलेजों में नर्सिंग पाठ्यक्रमों के लिए NEET की आवश्यकता नहीं होती है। इसके अलावा आप भारत और विदेशों में एक नर्स के रूप में कई उच्च-भुगतान वाले अवसरों का पता लगा सकते हैं क्योंकि संगठन नर्सिंग नौकरियों के लिए भी वीजा प्रायोजन प्रदान करते हैं।

फोरेंसिक विज्ञान और अपराध विज्ञान(Forensic Science and Criminology)

यह कोर्स सबसे दिलचस्प चिकित्सा विज्ञान पाठ्यक्रमों में से एक फोरेंसिक और आपराधिक विज्ञान के क्षेत्र में हैं। चाहे वह डिप्लोमा हो या बीएससी साइबर फोरेंसिक डिग्री, आप कानून सलाहकार, जांच अधिकारी, अपराध दृश्य जांचकर्ता, हस्तलेखन विशेषज्ञ इत्यादि जैसे अलग अलग प्रोफाइल के तहत काम कर सकते हैं।

जैव रसायन पाठ्यक्रम(Biochemistry Courses)

NEET के बिना मेडिकल कोर्सेज की सूची में एक और लोकप्रिय संदर्भ BSc रसायन विज्ञान कार्यक्रम है। यह 3 से 4 वर्षों की अवधि के लिए चल रहा है और दुनिया भर के कई विश्वविद्यालयों द्वारा पेश किया गया है। यह कार्यक्रम ऑर्गेनिक्स, अकार्बनिक और भौतिक रसायन विज्ञान की मूल अवधारणाओं को समझने पर बहुत जोर देता है।

B.NEET exam से मेडिकल कोर्स

यदि आपने क्लास 12th तीन मूल विषयों से Physics, Chemistry और Bio से किया है तो आप NEET exam के लिए तैयारी कर सकते है। NEET exam को क्वालीफाई कर आप एक बेहतरीन कॉलेज में दाखिला ले सकते है और अच्छी से अच्छी मेडिकल की तैयारी कर सकते है। यह मेडिकल साइंस के क्षेत्र का 4 वर्ष का डिग्री कोर्स है। Nursing कोर्स से स्नातक होने के बाद कैंडिडेट्स स्टाफ नर्स, रजिस्टर्ड नर्स(RAN), नर्स शिक्षक, मेडिकल कोडर(medical coder) आदि हो सकते हैं। Nursing कोर्स के लिए वैसे तो NEET अनिवार्य नहीं है लेकिन साल 2021 से NEET 2021 अंक के माध्यम से BSc Nursing एडमिशन होंगे।

NEET के बिना MBBS

आप सोच रहे होंगे कि अगर हम NEET के बिना मेडिकल साइंस के इतने सारे कोर्स कर सकते हैं तो MBBS का भी कोई रास्ता होना चाहिए। लेकिन नियमअनुशार आप NEET exam क्वालीफाई बिना MBBS नहीं कर सकते। भारत में हर संस्थान के लिए NEET स्कोर लेना अनिवार्य कर दिया गया है।

और भी पढ़े हिंदी में –

12th Commerce के बाद आप किन किन कोर्स को चुन सकते है?
12th नॉन मेडिकल के बाद क्या क्या कोर्स आप चुन सकते है?
आर्ट्स स्ट्रीम में 12वीं के बाद सबसे अच्छे कोर्स कौन से हैं?
10वीं (हाई स्कूल) पास करने के बाद आप क्या क्या कर सकते है?
दुनिया में सबसे कठिन पाठ्यक्रम(Toughest Course in the World)
भारत में शीर्ष 10 सबसे कठिन परीक्षा(Top 10 toughest examination in India)
SSC(Staff Selection Commission)क्या है?

Leave a Comment

istanbul diyetisyen -

seo ajansı

- mersin escort