Education

भारत में शीर्ष 10 सबसे कठिन परीक्षा(Top 10 toughest examination in India)

Top 10 toughest examination in India

Top 10 toughest examination in India: प्रतियोगी परीक्षाओं को योग्यता, मानसिक स्थिरता, तकनीकी कौशल, शारीरिक फिटनेस और अन्य पहलुओं को मापने के लिए डिज़ाइन और तैयार किया गया है। ये परीक्षाएं या तो मौखिक रूप से, ऑनलाइन, या पेन-एंड-पेपर के माध्यम से या एक ऐसे सेटअप में आयोजित की जाती हैं, जिसमें परीक्षार्थी को एक विशेष कौशल के साथ परीक्षा करने की आवश्यकता होती है। भारत में हर साल हजारों परीक्षाएं आयोजित की जाती हैं; उनमें से अधिकांश को तोड़ना आसान है, लेकिन कुछ को सबसे कठिन माना जाता है। लेख में भारत में शीर्ष 10 सबसे कठिन परीक्षाओं का विवरण शामिल है।

Top 10 toughest examination in India

UPSC Civil Services Exam

यह परीक्षा भारत में सबसे कठिन मानी जाती है। सिविल सेवा परीक्षा भारत में भारतीय प्रशासनिक सेवा(Indian Administrative Service IAS), भारतीय विदेश सेवा(Indian Foreign Service IFS) और भारतीय पुलिस सेवा(Indian Police Service IPS) सहित भारत सरकार की उच्च सिविल सेवाओं में भर्ती के लिए संघ लोक सेवा आयोग(Union Public Service Commission) अन्य संबद्ध सेवाएं द्वारा आयोजित एक राष्ट्रव्यापी प्रतियोगी परीक्षा(nationwide competitive examination) है।

IAS परीक्षा के लिए शैक्षिक योग्यता
जिन भी कैंडिडेट्स के पास किसी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय(Recognized University) से स्नातक की डिग्री प्राप्त होनी चाहिए।

UPSC सिविल सेवा परीक्षा आयु सीमा
उम्मीदवार की आयु न्यूनतम 21 वर्ष होनी चाहिए और 32 वर्ष से अधिक नहीं होनी चाहिए। सामान्य श्रेणी और ईडब्ल्यूएस(EWS) 32 वर्ष होनी चाहिए।

IIT-JEE (Indian Institute Of Technology-Joint Entrance Examination)

यह परीक्षा कठिन परीक्षा में से दूसरे नंबर पर आती है। संयुक्त प्रवेश परीक्षा(Joint Entrance Examination) भारत में अलग अलग इंजीनियरिंग कॉलेजों में प्रवेश के लिए आयोजित एक इंजीनियरिंग(Engineering) प्रवेश मूल्यांकन है।
यह दो अलग-अलग परीक्षाओं द्वारा आयोजित किया गया है।

जेईई मेन(JEE MAINS) or जेईई एडवांस्ड (JEE Advanced)

संयुक्त प्रवेश परीक्षा (JEE) मुख्यता पूर्व में अखिल भारतीय इंजीनियरिंग प्रवेश परीक्षा(All India Engineering Entrance Examination AIEEE) भारत भर में इंजीनियरिंग, वास्तुकला और योजना में विभिन्न तकनीकी स्नातक कार्यक्रमों में प्रवेश के लिए एक कंप्यूटर बेस्ड टेस्ट परीक्षा है। यह परीक्षा राष्ट्रीय परीक्षण एजेंसी (National Testing Agency NTA) के द्वारा आयोजित की जाती है।

JEE MAINS परीक्षा के लिए शैक्षिक योग्यता
कोई भी छात्र जिसने 12वीं कक्षा अच्छे से पास की हो वो इस एग्जाम को दे सकता है। छात्र या छात्राएं लगातार तीन वर्षों तक जेईई मेन परीक्षा में शामिल हो सकते हैं। प्रवेश परीक्षा साल में चार बार आयोजित की जाएगी।

JEE ADVANCED परीक्षा के लिए शैक्षिक योग्यता
इस कठिन परीक्षा को देने के लिए सबसे जरूरी यह होता है की अपने Jee mains की परीक्षा दिया है की नही अगर दिया है तो एडवांस के लिए कटऑफ क्वालीफाई करना पड़ेगा फिर उसके बाद आप यह परीक्षा दे सकते है। यह परीक्षा साल में एक बार आयोजित की जाती है।

Chartered Accountant (CA)

चार्टर्ड एकाउंटेंसी या CA परीक्षा पास करने के लिए सबसे कठिन परीक्षाओं में से एक है और वाणिज्य(Commerce) का अध्ययन करने वाले कई छात्र उज्ज्वल भविष्य के लिए इस करियर पथ को चुनते हैं।
यह उन छात्रों द्वारा प्रयास किया जा सकता है जिन्होंने 12 वीं कक्षा पूरी कर ली है, स्नातक और पेशेवर हो।

NEET UG(National Eligibility cum Entrance Test Undergraduate)

यह परीक्षा कठिन परीक्षा में से एक होती है। राष्ट्रीय पात्रता सह प्रवेश परीक्षा (स्नातक)(National Eligibility cum Entrance Test Undergraduate) या एनईईटी (यूजी)(NTA UG), पहले इसको अखिल भारतीय प्री-मेडिकल टेस्ट (एआईपीएमटी)(All India Pre-Medical Test AIPMT) के नाम से जाना जाता था। उन छात्रों के लिए एक अखिल भारतीय प्री-मेडिकल प्रवेश परीक्षा है जो स्नातक चिकित्सा (एमबीबीएस MBBS), दंत चिकित्सा( बीडीएस BDS) और आयुष(AYUSH) (बीएएमएस BAMS , बीयूएमएस BUMS, बीएचएमएस BHMS, आदि) करना चाहते है ये उनके लिए परीक्षा है।

यह परीक्षा उन छात्र छात्राएं द्वारा प्रयास किया जा सकता है जो किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड से मुख्य विषयों के रूप में भौतिकी, रसायन विज्ञान, जीव विज्ञान / जैव प्रौद्योगिकी और अंग्रेजी के साथ 10 + 2 या समकक्ष उत्तीर्ण हो। कक्षा 12 या समकक्ष के उम्मीदवार भी NEET के लिए आवेदन करने के पात्र हैं।

AIIMS UG( All India Institute of Medical Sciences)

यह परीक्षा भी थोड़ी कठिन मानी जाती है। एम्स(AIIMS) एमबीबीएस(MBBS) परीक्षा, या आमतौर पर कक्षा 12 के छात्रों द्वारा एम्स परीक्षा के रूप में संदर्भित, अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान(All India Institute of Medical Sciences) द्वारा हर साल उनके स्नातक कार्यक्रम के लिए राष्ट्रीय स्तर पर आयोजित की जाती है। एमबीबीएस स्नातक कार्यक्रम पूरे भारत में 9 एम्स संस्थानों में पेश किया जाता है।

यह परीक्षा उन छात्रों द्वारा प्रयाश की जा सकती है जिन्का12वीं की परीक्षा में फिजिक्स, केमिस्ट्री, बायोलॉजी और इंग्लिश मुख्य विषय होने चाहिए। सामान्य श्रेणी और अन्य पिछड़ी जातियों के लिए न्यूनतम 60% और अनुसूचित जाति / अनुसूचित जनजाति के लिए 50% का न्यूनतम स्कोर आवश्यक है।

Graduate Aptitude Test in Engineering (GATE)

ग्रेजुएट एप्टीट्यूड टेस्ट इन इंजीनियरिंग (GATE) भारत में आयोजित एक परीक्षा है जो मुख्य रूप से मास्टर्स प्रोग्राम(Masters Program) में प्रवेश और सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनियों में नौकरी के लिए इंजीनियरिंग और विज्ञान में अलग अलग स्नातक विषयों की व्यापक समझ(Comprehensive Understanding) का परीक्षण करती है।

GATE की परीक्षा M. Tech और Ph. D जैसे पोस्ट ग्रेजुएशन पाठ्यक्रमों के लिए प्रवेश परीक्षा है और GATE परीक्षा में बैठने के लिए ग्रेजुएशन डिग्री होनी चाहिए शर्त है।

यह परीक्षा वो लोग दे सकते है जिन्होने इंजीनियरिंग/प्रौद्योगिकी(Btech) में स्नातक डिग्री धारक (10+2 के बाद 4 साल या इंजीनियरिंग/प्रौद्योगिकी में बीएससी/डिप्लोमा(BSC/Diploma) के 3 साल बाद) ही Gate की परीक्षा दे सकते है।

National Defence Academy (NDA)

यह परीक्षा लगभग IIT JEE के बराबर ही मानी जाती है। NDA परीक्षा एक राष्ट्रीय परीक्षा है जो संघ लोक सेवा आयोग (UPSC) द्वारा राष्ट्रीय रक्षा अकादमी और भारतीय नौसेना अकादमी पाठ्यक्रम (Indian Naval Academy Course INAC)) के सेना, नौसेना और वायु सेना के विंग के लिए उम्मीदवारों का चयन करने के लिए आयोजित की जाती है। NDA का फुल फॉर्म नेशनल डिफेंस एकेडमी है।

Common-Law Admission Test (CLAT)

कॉमन लॉ एडमिशन टेस्ट (CLAT) भारत में 22 नेशनल लॉ यूनिवर्सिटी(National Law University NLU) में प्रवेश के लिए एक केंद्रीकृत राष्ट्रीय स्तर की प्रवेश परीक्षा है। भारत में ज्यादातर निजी और गवर्नमेंट फंडेड स्कूल भी इन अंकों का उपयोग कानून में प्रवेश के लिए करते हैं।

UGC(University Grants Commission) NET( National Eligibility Test)

भारतीय विश्वविद्यालयों और कॉलेजों के लिए सहायक प्रोफेसरशिप(Assistant Professorship, जूनियर रिसर्च फेलोशिप(Junior Research Fellowship) या दोनों की पात्रता के लिए भारतीय नागरिकों की पात्रता निर्धारित करने के लिए विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (UGC) की ओर से राष्ट्रीय पात्रता परीक्षा (NET) आयोजित की जाती है। UGC NET हर साल दो बार आयोजित किया जाता है।

NID Entrance Exam (NATIONAL INSTITUTE OF DESIGN ENTRANCE EXAM)

एनआईडी(NID) डिजाइन एप्टीट्यूड टेस्ट(Design Aptitude Test) जिसे आमतौर पर एनआईडी डीएटी(NID DAT) के रूप में जाना जाता है। यह एक दो स्तरीय डिजाइन प्रवेश परीक्षा है जिसमें प्रारंभिक परीक्षा और मुख्य परीक्षा शामिल है। एनआईडी परिसरों द्वारा प्रस्तावित बी. डेस (B.DES) और एम डेस(M.Des) प्रवेश के लिए छात्रों को शॉर्टलिस्ट(shortlist) करने के लिए राष्ट्रीय स्तर पर हर साल प्रवेश परीक्षा आयोजित की जाती है।

दोस्तों मैं आशा करता हूँ की ये आर्टिकल – भारत में 10 सबसे कठिन परीक्षा(Top 10 toughest examination in India) आपको पसंद आया होगा और अगर आपका कोई सुझाव या कोई प्रश्न है हमें कमेंट करके जरूर बताये।

और भी पढ़े हिंदी में –

-योग क्या है, इसके लाभ, प्रकार और नियम (What is yoga, its benefits, types and rules?)
-अंगूर के कुछ रहस्यमई लाभ जो आपके स्वास्थ को अच्छा बना सकता है.
-ठंडी के मौसम में लोगो को bronchitis जैसे बीमारियां होने से बचाएं
-इंडियन स्पेस एसोसिएशन(ISPA) Program kya hai?
-Dhani Card क्या है? Dhani Pay card Benefits in Hindi
-31 कमाल की वेबसाइट जिनके बारे में आपको जानना चाहिए।

Related posts

बैंक खाता कितने प्रकार के होते है। पूरी जानकारी हिंदी में

Ravi Chaurasiya

Interview Preparation के लिए 13 कमाल की वेबसाइट

Pradeep Kumar

SSC(Staff Selection Commission)क्या है?

Neha Kumari

Leave a Comment

AllEscort