लैरी पेज की कहानी(Story of Larry Page in Hindi)

लॉरेंस एडवर्ड पेज एक अमेरिकी बिजनेस मैग्नेट, कंप्यूटर वैज्ञानिक और इंटरनेट उद्यमी हैं। उन्हें सर्गेई ब्रिन(Sergey Brin) के साथ Google के सह-संस्थापकों में से एक के रूप में जाना जाता है। इनकी कुल संपत्ति 12,020 crores US dollar है। तो चलिए जानते है लैरी पेज की कहानी हिंदी में(Story of Larry Page in Hindi).

प्रारंभिक जीवन और शिक्षा(early life and education)

लैरी पेज का जन्म 26 मार्च सन् 1973 को लैंसिंग, मिशिगन(Lansing, Michigan) में हुआ था। उनकी माँ यहूदी है उसके नाना बाद में इसराइल में आकर बस गए। हालांकि लैरी पेज की परवरिश बिना किसी धार्मिक यहूदी प्रथा के हुई है, और उन्होंने खुद को कोई औपचारिक धर्म घोषित नहीं किया है। उनके पिता कार्ल विक्टर पेज(Carl Victor Page) सीनियर ने मिशिगन(Michigan)विश्वविद्यालय से कंप्यूटर विज्ञान(CS) में पीएचडी(PhD) की उपाधि प्राप्त की।

लैरी पेज के पिता मिशिगन स्टेट यूनिवर्सिटी में कंप्यूटर साइंस के प्रोफेसर थे और उनकी मां ग्लोरिया(Gloria) उसी संस्थान के लाइमन ब्रिग्स(Lyman Briggs) कॉलेज में कंप्यूटर प्रोग्रामिंग(computer programming) की निर्देशिका थीं।

लैरी पेज को पहली बार कंप्यूटर की ओर आकर्षित किया गया था जब वह मात्र छह साल के थे। वह अपने प्राथमिक विद्यालय में वर्ड प्रोसेसर से असाइनमेंट(assignment ( करने वाले पहले बच्चे बन गए।

लैरी पेज ने ओकेमोस(Okemos)मिशिगन में ओकेमोस मॉन्टेसरी(montessori) स्कूल (जिसको अब मोंटेसरी रेडमूर कहा जाता है) में 2 से 7 वर्ष की आयु (1975 से 1979) तक भाग लिया। उन्होंने 1991 में ईस्ट लांसिंग(East Lansing) हाई स्कूल में स्नातक की पढ़ाई करी। स्कूल में उन्होंने इंटरलोचन सेंटर फॉर द आर्ट्स(Interlochen Center for the Arts) में बांसुरी बजाते हुए भाग लिया। लैरी पेज के पास मिशिगन विश्वविद्यालय से कंप्यूटर इंजीनियरिंग में बैचलर ऑफ साइंस करने के साथ साथ स्टैनफोर्ड यूनिवर्सिटी (Stanford University) से कंप्यूटर साइंस में मास्टर ऑफ साइंस किया।

लैरी पेज ने एटा कप्पा नु (फ्रेटरनिटी) के बीटा एप्सिलॉन(Beta application) अध्याय के अध्यक्ष के रूप में कार्य कियाऔर सन् 1993 मक्का और नीला मिशिगन विश्वविद्यालय सौर कार टीम के सदस्य भी थे।

लैरी पेज ने एक कंपनी के लिए एक व्यवसाय योजना भी विकसित की जो इस दौरान एक संगीत संश्लेषक बनाने के लिए सॉफ़्टवेयर का उपयोग करेगी।

स्टैनफोर्ड विश्वविद्यालय(Stanford University) में एक कंप्यूटर विज्ञान पीएचडी कार्यक्रम में दाखिला लेने के बाद, पेज एक शोध प्रबंध विषय की तलाश में था और वर्ल्ड वाइड वेब(World Wide Web) के गणितीय गुणों की खोज करने पर विचार किया इसकी लिंक संरचना को एक विशाल ग्राफ के रूप में समझा जा सकता है।

रिसर्च और बिजनेस कैरियर (Research and Business Carrier)

अपने कार्यकाल के दौरान टेलीप्रेज़ेंस और सेल्फ-ड्राइविंग कारों पर शोध करने पर भी विचार किया। ब्रिन(Brinn) और पेज(Page) ने पेजरैंक एल्गोरिथम(PageRank algorithm) विकसित किया और महसूस किया कि इसका उपयोग वर्तमान इंजनों से कहीं बेहतर खोज इंजन बनाने के लिए किया जा सकता है। एल्गोरिथम एक नई तकनीक पर निर्भर करता था जो एक वेब पेज को दूसरे से जोड़ने वाले बैकलिंक्स(backlinks) की प्रासंगिकता का विश्लेषण करती थी।

अपने विचारों को मिलाकर पेज के छात्रावास के कमरे को मशीन प्रयोगशाला के रूप में उपयोग करना शुरू किया और एक उपकरण बनाने के लिए सस्ते कंप्यूटरों से स्पेयर पार्ट्स(spare parts) निकाले जिसका उपयोग वे स्टैनफोर्ड के ब्रॉडबैंड कैंपस(broadband campus) नेटवर्क के साथ अब नए खोज इंजन को जोड़ने के लिए करते थे।

लैरी पेज और ब्रिन ने उपयोगकर्ताओं के लिए एक सरल खोज पृष्ठ सेट करने के लिए HTML प्रोग्रामिंग कौशल का उपयोग किया क्योंकि उनके पास कुछ भी विस्तृत रूप से बनाने के लिए वेब पेज डेवलपर नहीं था। उन्होंने कई उपयोगकर्ताओं द्वारा खोजों को संभालने के लिए आवश्यक कंप्यूटिंग शक्ति को इकट्ठा करने के लिए किसी भी कंप्यूटर भाग का उपयोग करना शुरू कर दिया।

सन् 1998 में ब्रिन और पेज ने गूगल इंक(google Inc.) को शामिल किया। गूगोल(Googol) के प्रारंभिक डोमेन नाम के साथ, एक संख्या से जन्मे जिसमें एक के बाद एक सौ शून्य होते हैं,जो उस विशाल मात्रा में डेटा का प्रतिनिधित्व करता है जिसे खोज इंजन का पता लगाने का इरादा था। स्थापना के बाद, लैरी पेज ने खुद को सीईओ के रूप में नियुक्त किया जबकि ब्रिन जो कि Google के सह-संस्थापक थे, उन्होंने Google के अध्यक्ष के रूप में कार्य किया।

जून सन् 2000 तक, Google ने एक अरब इंटरनेट URL (यूनिफ़ॉर्म रिसोर्स लोकेटर) को अनुक्रमित कर लिया था, जिससे यह उस समय वेब पर सबसे प्रसिद्ध और व्यापक खोज इंजन बन गया।

अगस्त सन 2011 में, लैरी पेज ने घोषणा की मोटोरोला मोबिलिटी(Motorola Mobility) का अधिग्रहण करने के लिए Google 12.5 बिलियन डॉलर खर्च करेगा। खरीदारी मुख्य रूप से ऐप्पल इंक(Apple Inc.) आदि कंपनियों द्वारा एंड्रॉइड(Android) को मुकदमों से बचाने के लिए थी।

मान्यता या पहचान(recognition or identity)

सन 2008 में लैरी पेज को Google की ओर से प्रिंस ऑफ़ अस्टुरियस(Prince of Asturias) अवार्ड्स में प्रिंस फेलिप(Prince Felipe) से कम्युनिकेशन अवार्ड मिला।

सन् 2004 में, X PRIZE ने अपने बोर्ड के ट्रस्टी के रूप में लैरी पेज को चुना और वह नेशनल एकेडमी ऑफ इंजीनियरिंग के लिए भी चुने गए।

सन् 2005 में, ब्रिन और पेज अमेरिकी कला और विज्ञान अकादमी के फैलो(fellow) चुने गए।

सन 2004 में, लैरी पेज और ब्रिन को अमेरिकन एकेडमी ऑफ अचीवमेंट(American Academy of Achievement) का गोल्डन प्लेट अवार्ड(golden plate awards) मिला।

लैरी पेज और ब्रिन सन 2003 में ईवाई एंटरप्रेन्योर ऑफ द ईयर(EY Entrepreneur of the Year) अवार्ड के लिए पुरस्कार प्राप्तकर्ता और राष्ट्रीय फाइनलिस्ट भी रह चुके थे।

अक्टूबर सन 2015 में, लैरी पेज को फोर्ब्स(Forbes) की (अमेरिका के सबसे लोकप्रिय मुख्य कार्यकारी अधिकारियों की सूची) में नंबर एक का नाम दिया गया था, जैसा कि Google के कर्मचारियों द्वारा मतदान किया गया था।

सन् 2017 अगस्त में, लैरी पेज को एग्रीजेंटो(Agrigento) इटली की मानद नागरिकता से सम्मानित किया गया।

व्यक्तिगत जीवन (Personal life)

सन 2007 में, लैरी पेज ने रिचर्ड ब्रैनसन(Richard Branson) के स्वामित्व वाले कैरेबियन द्वीप, नेकर द्वीप पर लुसिंडा साउथवर्थ से शादी की। साउथवर्थ एक शोध वैज्ञानिक और अभिनेत्री और मॉडल कैरी साउथवर्थ (Carrie Southworth) की बहन हैं। लैरी पेज और साउथवर्थ के दो बच्चे हैं, जिनका जन्म 2009 और 2011 में हुआ था।

सन् 2021 में यह पता चला कि लैरी पेज के पास न्यूजीलैंड का निवासी वीजा है और उसने न्यूजीलैंड में अपने बेटे के इलाज के लिए फिजी से मेडिवैक फ्लाइट से देश की यात्रा की थी।

अक्टूबर सन् 2013 में, बिजनेस इनसाइडर ने रिपोर्ट किया कि लैरी पेज के लकवाग्रस्त वोकल कॉर्ड(vocal cord) हाशिमोटो के थायरॉयडिटिस(Hashimoto’s thyroiditis) नामक एक ऑटोइम्यून(autoimmune) बीमारी के कारण होते हैं।

और भी जाने :-

-मार्क जुकरबर्ग की कहानी(Story of Mark Zuckerberg in Hindi)
-गेट्स अमीर शख्स की कहानी(Story of William Henry Gates in Hindi)
-बर्नार्ड अर्नोल्ट अमीर शख्स की कहानी(Story of Bernard Arnault in Hindi)
-एलोन मस्क दुनिया के अमीर शख्स की कहानी(Story of Elon Musk in Hindi)
-जेफ बेजोस दुनिया के सबसे अमीर शख्स की कहानी(Story of Jeff Bezos in Hindi)
-2021 दुनिया के सबसे अमीर आदमी की लिस्ट(richest man in the world in Hindi)
-महिलाओं के लिए बिजनेस आइडिया(housewife business ideas in Hindi)
-Dhani Card क्या है? Dhani Pay card Benefits in Hindi
-होठों का कालापन दूर करे(blackness of the lips)
-महामारी बालों के झड़ने की खतरनाक वजह बन गई है?
-डार्क सर्कल्स से कैसे छुटकारा पाए ( how to get rid off dark circles):

Leave a Comment

istanbul diyetisyen -

seo ajansı

- mersin escort